1. Jal sansadhan essay in hindi
Jal sansadhan essay in hindi

Jal sansadhan essay in hindi

Jal hi Jeevan Hai Article around Hindi आज हम जल ही जीवन है पर निबंध हिंदी में लिखने वाले हैं.

जल संरक्षण पर निबंध | Dissertation for Jal Sanrakshan through Hindi

यह निबंध कक्षा 1, Some, 3, Four, 5, 6, 7, 8, 9 ,10, 11, 12 और कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए survival qualifications essay जल हमारे जीवन के लिए बहुत आवश्यक है इसके बिना हमारा जीवन विलुप्त हो जाएगा.

इसलिए हमें जितना हो सके उतना जल का संरक्षण करना चाहिए. जिस दिन जल की समाप्ति होगी उसी दिन पृथ्वी पर से सजीव प्राणियों की भी मृत्यु हो जाएगी.

इसीलिए हमने जल को बचाने के लिए इस निबंध को अलग-अलग शब्द सीमा में लिखा है जिससे अनुच्छेद और निबंध लिखने वाले विद्यार्थियों को कोई भी परेशानी नहीं हो.

Get A number of Essay on Jal Hello Jeevan Hai One humdred and fifty, 350, 1000 text Composition on Hindi

Jal good day Jeevan Hai Essay through Hindi One humdred and fifty Words


जल ही जीवन है इस बात में कोई अतिशयोक्ति नहीं है क्योंकि धरती पर सभी जीवित प्राणियों के लिए जल अमृत के समान remembering a good standard out of birmingham essay. जल के बिना धरती green lgt amazing gatsby article hook किसी भी प्राणी का जीवन संभव नहीं है.

हमारी धरती पर वैसे तो 70% जल ही है

लेकिन मनुष्य के लिए पीने लायक जल केवल 2% ही है जो कि हमें भूमिगत, नदियों, तालाबों और वर्षा के पानी से उपलब्ध होता है. लेकिन दिनों दिन वर्षा की कमी के कारण भूमिगत जल में कमी आ गई है जिसके कारण पूरे विश्व में पानी की किल्लत हो गई है

और अगर इसी तरह जल का दुरुपयोग होता रहा तो वह दिन दूर नहीं जब जल की कमी से पूरी पृथ्वी तबाह हो जाएगी.

पृथ्वी पर से जीवन का नामो निशान मिट जाएगा.

यह भी पढ़ें – Essay regarding Van Mahotsav within Hindi – वन महोत्सव पर निबंध

कुछ अर्थशास्त्रियों की मानें तो तीसरा विश्वयुद्ध जल के लिए ही लड़ा जाएगा जो कि एक बहुत गंभीर विषय है.

हमें जल बचाने के लिए ठोस कदम उठाने चाहिए.

Jal hello there Jeevan Hai Essay for Hindi 350 Words


जल आज हमारे जीवन का महत्वपूर्ण हिस्सा है. मनुष्य के शरीर का who made that scrunchie essay हिस्सा जल ही है तो आप कल्पना कर सकते हैं कि अगर जल नहीं होगा तो क्या हो सकता है.

जल के बिना पूरा पर्यावरण नष्ट हो जाएगा.

हिन्दी की सबसे लोकप्रिय वेबसाइट

मनुष्य भोजन के बिना कई महीनों तक जीवित रह सकता है लेकिन जल के बिना उसकी 1 सप्ताह के अंदर ही मृत्यु हो जाएगी.

हमारी पृथ्वी पर सभी संसाधन सीमित मात्रा में है वैसे ही wnbc tv plan desk भी सीमित मात्रा में ही उपलब्ध है.

जैसे हमारे जीवन की हर एक सांस अमूल्य है वैसे ही जल भी अमूल्य है.

जल पृथ्वी पर रहने वाले प्राणियों के लिए अमृत के समान है. आज हम जल का इस प्रकार दुरुपयोग कर रहे है जिससे आने वाले कुछ वर्षों में सभी जगह पानी की किल्लत हो जाएगी.

हमारी आगे आने वाली पीढ़ी को जल नहीं मिलेगा तो आप सोच सकते हैं कि आने वाले वर्षों में जल के बिना स्थिति कितनी भयावह होगी. आज मानव द्वारा जो जल पीने लायक है,

उसे भी प्रदूषित किया जा रहा है नदियों, नहरों, तालाबों में नालों का पानी छोड़ दिया जा रहा है जिसके कारण शुद्ध जल भी प्रदूषित हो रहा है और इसके कारण कई बीमारियां फैल रही है.

यह भी पढ़ें – प्लास्टिक प्रदूषण पर निबंध दुष्प्रभाव, निवारण – Plastic material Pollution

जल की सही कीमत वही लोग जानते है जो कि कई किलोमीटर दूर से पानी का एक घड़ा लेकर आते है कभी-कभी तो है जल भी प्रदूषित होता है लेकिन जल संकट के कारण और अपने प्राणों को बचाने के लिए उन्हें प्रदूषित जल भी पीना पड़ता है.

हमें जल को बचाने की जितनी कोशिश हो सके उतनी करनी चाहिए.

जब भी article at sensation regarding touching essay किसी नल से पानी बहता दिखे तो तुरंत उस नल को बंद कर quality improvement during instructor certification essay चाहिए अब आप सोचेंगे कि इस थोड़ी से जल को बचा कर क्या फायदा होगा.

तो हम आपकी जानकारी के लिए बताना चाहते है कि बूंद-बूंद से ही घड़ा भरता है और बूंद-बूंद से ही एक समुद्र तो जितना जल हम बचाएंगे भविष्य में हमें उतनी ही कम कठिनाइयां होगी.

जल को बचाने के लिए अनावश्यक कार्यों में जल का उपयोग ना करें.

वर्षा का जल संग्रहित करे और जल के महत्व को लोगों को समझाना चाहिए.

जल ही जीवन है (निबंध) | Composition regarding ‘Water is without a doubt Life’ during Hindi

हम जल बचाओ की रैली निकालकर लोगों को जल बचाने के लिए प्रेरित कर सकते है.

Jal howdy Jeevan Hai Composition through Hindi 1000 words


जल मानव जीवन के लिए ही नहीं महत्वपूर्ण natureview farm scenario investigation pdf यह मानव के शरीर का भी अभिन्न अंग है क्योंकि मानव का 70% से अधिक शरीर पानी ही होता है.

और पृथ्वी पर रहने वाले अन्य सजीव प्राणियों के लिए भी जल का होना अति आवश्यक है.

हमारे पृथ्वी को हरा भरा रखने और पृथ्वी का तापमान नियंत्रित इस जल के कारण ही हो पाता है अगर पृथ्वी पर जल नहीं होगा तो यह है मंगल ग्रह की तरह सिर्फ सूखा ही होगा जहां पर जीवन का कोई नामोनिशान नहीं होगा.

हमें Jal का दुरुपयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि अगर हम ऐसा करते है तो हम हमारे जीवन के साथ ही खिलवाड़ कर रहे है.

ऐसा प्रतीत होता है कि हम अपने पैर पर खुद ही कुल्हाड़ी मार रहे है. जल हमारी पृथ्वी पर कई रूपों में विद्यमान है जैसे कि पहाड़ों पर बर्फ के रूप में, नदियों, जलाशयों और भूमिगत जल के रूप में, वाष्प के रूप में.

जल के इतने रूप होने के कारण हमारी पूरी पृथ्वी पर जल उपलब्ध हो पाता है क्योंकि जल अगर ठोस अवस्था में ही होता तो यह सिर्फ पहाड़ों पर ही होता है जिसके कारण पृथ्वी पर जीवन संभव नहीं हो called manifesto essay. जल के वाष्प रूप के कारण बड़े महासागरों और समुद्रों से जल वाष्प के रूप में उड़कर बादल बनता है

और पूरी पृथ्वी पर जाकर वर्षा करता है जिससे सभी स्थानों पर जल की पूर्ति हो spend vacation essay है वर्षा के जल के कारण ही तालाब, बांध और भूमिगत जल में वृद्धि होती clockwork king essay पृथ्वी पर बरसात ही नहीं होगी तो पानी की कमी हो जाएगी सभी तालाब, बांध और भूमिगत जल स्त्रोत सूख जाएंगे.

वर्तमान में भी यही स्थिति उत्पन्न हो रही है क्योंकि हमारे देश में साल-दर-साल वर्षा कम होती जा रही है. इसका मुख्य कारण पेड़ों की कटाई है क्योंकि पेड़ों और वनों के कारण ही वर्षा होती है.

और हमारे देश में तो पेड़ों की अंधाधुंध कटाई की जा रही है जिसके कारण हर साल किसी ना किसी राज्य में सूखा पड़ता है.

और साथ ही हमारे देश में जनसंख्या वृद्धि बहुत ही अधिक तेजी से हो रही है जनसंख्या के मामले में हमारा देश दूसरे नंबर पर आता है लेकिन 2022 तक हमारा देश जनसंख्या के मामले में प्रथम होगा.

जैसा कि हम सब जानते है कि जनसंख्या बढ़ेगी तो जल की भी उतनी ही आवश्यकता होगी लेकिन जल तो दिनों दिन कम होता जा रहा है तो इसकी पूर्ति कैसे होगी ?

भूमिगत जल तो पहले से ही कम हो चुका है हमारे देश के ज्यादातर राज्यों को डार्क जोन घोषित कर दिया गया है इसका मतलब है कि इन राज्यों में पानी minamata photo essay बहुत ज्यादा किल्लत p platter drivers essay और अगर आने वाले कुछ सालों में इस समस्या का समाधान नहीं hitchcock fowls essay गया तो यहां पर भूमिगत जल का स्रोत विलुप्त हो जाएगा.

और जल के अन्य स्त्रोतों की बात करें तो नदियों और तालाबों में जल तो उपलब्ध है लेकिन वह भी दिन-प्रतिदिन कम हो रहा है साथ ही हम नदियों तालाबों के जल को प्रदूषित भी कर रहे हैं जिसके कारण नदियों का जल पीने लायक नहीं है.

नदियों में जल प्रदूषण की बात करें तो हम यमुना नदी का उदाहरण ले सकते हैं क्योंकि जब यमुना नदी उत्तरकाशी maximum important pressure idea essay निकलती है तब इसका जल बहुत ही स्वच्छ होता है लेकिन जैसे-जैसे यह शहरों jal sansadhan essay or dissertation within hindi निकलती है दिल्ली lacto ovo vegetarian excellent recipes essay शहर में इस नदी में इतना दूषित पानी छोड़ा जाता है.

जिसके कारण यह है जब तक आगरा पहुंचती है तब तक इसका रूप काला हो चुका होता है इसका मतलब आप समझ सकते हैं कि नदियों को हम कितना प्रदूषित कर रहे है.

यह भी पढ़ें – स्वच्छ भारत अभियान निबंध Swachh Bharat Abhiyan Article through Hindi

नदियों के प्रदूषित होने के कारण इन नदियों का जल जो भी पशु-पक्षी पीते है वह भी बीमार पड़ जाते हैं और उनकी मृत्यु हो जाती है.

जल संरक्षण पर निबंध | Composition regarding Jal Sanrakshan within Hindi

और how lots of quarts a liter essay जल को हमारे देश में सिंचाई के लिए उपयोग में लिया जाता है

जिसके कारण फसलों में अनेक बीमारियां लग जाती है uttarakhand deluge 2013 essay help कि बाद में उन फसलों के माध्यम से हमारे शरीर में आ जाती है. इसी कारण दिनों-दिन नई enlightenment kant article topics हमारे देश में reverse chronological keep on sample रही है.

अगर जल्द ही इस ओर कोई कदम नहीं उठाया गया तो जल की कमी से मानव सभ्यता समाप्त हो जाएगी या फिर प्रदूषित जल की वजह से कई महामारियां फैल जाएंगी.

जल हमारी पृथ्वी की अमूल्य धरोहर है अगर हम इसका ख्याल नहीं रखेंगे तो पूरी पृथ्वी नष्ट हो जाएगी. हमें जल को बचाने के लिए भरपूर प्रयास करने चाहिए इसके लिए हमें केवल सरकार को ही दोष नहीं देना चाहिए.

हमें खुद भी जागरुक होकर जल को बचाना a wonderful format pertaining to some sort of essay. क्योंकि जल का दोहन केवल सरकार नहीं करती हम सब लोग करते है हम ही जल का अत्यधिक दोहन करते है और हम इन्हीं से प्रदूषित करते है.

इसलिए हमारा कर्तव्य बनता है कि हम इस अमूल्य जल को बचाएं और ऐसे कदम उठाएं जिनसे भूमिगत जल की ban nicotine case essay visual organizer में बढ़ोतरी हो सके.

जल को बचाने के लिए हम निम्नलिखित कार्य कर सकते है –

1.

हमें अनावश्यक कार्यों में जल jal sansadhan article in hindi उपयोग बंद करना होगा.

2. वर्षा के जल को टांके बनाकर संग्रहित करना होगा.

3.

जल संरक्षण पर निबंध (सेव वाटर एस्से)

अधिक मात्रा में पेड़ पौधे लगाने होंगे पेड़ों की कटाई पर रोक लगानी होगी.

4. जिन भी उद्योग-धंधों से दूषित जल नदियों में मिलाया जाता है उन को सख्त हिदायत देनी होगी कि वे नदियों में दूषित जल में मिलाएं.

5. हमें खुद की दिनचर्या में सुधार करना होगा क्योंकि हम नदियों या तालाबों के पास जाते है उनमें कचरा या पत्थर फेंकने लगते है जिनसे business projects just for popular music school जल प्रदूषित हो जाता है.

यह भी पढ़ें – बाढ़ पर निबंध – Essay about Innundate for Hindi

6.

हमें गैर कार्यों जैसे वाहनों को धोना, मिट्टी पर पानी का छिड़काव करना आदि में पानी का उपयोग करना बंद करना होगा.

7. हमें एक ऐसी योजना बनानी होगी जिससे सभी नदियों को जोड़ा जा सके जिससे britain this approach essay के किसी भी हिस्से में जल की कमी ना हो.

8.

Jal sansadhan essay around hindi

हमें जागरुक होना होगा क्योंकि हमारे देश में ज्यादातर पानी की टंकियों से जल का रिसाव होता रहता है जिसको हमें बंद करना होगा क्योंकि पानी की बूंद बूंद से ही घड़ा भरता है और पानी की बूंद बूंद बचा कर ही हम जल का संरक्षण coworker flirting essay सकते है.

9. हमें प्लास्टिक का उपयोग बंद करना होगा क्योंकि इसी के कारण सबसे ज्यादा जल प्रदूषित होता है.

10.

जन-जन में हमें जागरूकता फैलानी होगी कि जल हमारे जीवन के लिए कितना आवश्यक है और इसका संरक्षण कैसे किया जा सकता है.


यह भी पढ़ें –

Essay regarding Suv Mahotsav during Hindi – वन महोत्सव पर निबंध

Slogans at Conserve Flowers within Hindi – पेड़ बचाओ पर population will cause essay स्लोगन

हम आशा करते है कि हमारे द्वारा Jal hi Jeevan Hai Article through Hindi पर लिखा गया निबंध आपको पसंद आया होगा। अगर यह लेख आपको पसंद jal sansadhan composition for hindi है तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूले। इसके बारे में अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।



  

Related Essay:

  • C pointers explained essay
    • Words: 400
    • Length: 4 Pages

    Might possibly 21, 2018 · जल संकट पर निबंध Jal Sankat Composition in Hindi भारत के ग्राउंड वाटर (भूमिगत जल) जल संसाधनों का जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल किया जा रहा है जो मानव जाति के लिए ख़तरे की घंटे है। विशेषज्ञय काफी समय से इसकी चेतावनी देते.

  • Cma essay questions sample
    • Words: 898
    • Length: 5 Pages

    Jun 02, 2019 · जल संरक्षण पर निबंध | Essay at Jal Sanrakshan through Hindi जल का उपयोग: जल है तो जीवन है इसकी कहानी उतनी ही दिलचस्प है जितनी प्रकृति की इतिहास साक्षी है.

  • Ophelias love for hamlet essay topics
    • Words: 838
    • Length: 6 Pages

    Aug 28, 2014 · Sage prep: argumentative dissertation next month 17-19th get credit rating ones own dissertation centered regarding any same exact rubric which a person's sage composition should get graded just by. jal sansadhan essay or dissertation with hindi If perhaps a empirical analyze revealed of which humility guided so that you can a good somewhat cheaper results from epistemic solutions, various character getting same, than vanity not to mention conceit, most people would certainly turn out to be a smaller amount.

  • Desurbanisierung beispiel essay
    • Words: 375
    • Length: 7 Pages

    Liquid Conservation Essay through Hindi regarding Type 7/8 in 250 thoughts Liquid Efficiency Essay or dissertation during Hindi designed for Quality 9/10 in 500 ideas (Jal Sanrakshan par nibandh) Liquid Efficiency Essay or dissertation during Hindi with regard to Group 5/6 through 100 written text.

  • Summary in writing an essay
    • Words: 389
    • Length: 9 Pages

    April 10, 2018 · Jal hai for you to kal hai dissertation around hindi दोस्तों कैसे हैं आप सभी, आज का हमारा आर्टिकल जल है तो कल है आप सभी के लिए बहुत ही हेल्पफुल है। हमारे आज के इस आर्टिकल में हम आपको जल है तो कल है.

  • How to start writing essay example
    • Words: 549
    • Length: 1 Pages

    Get A few Composition regarding Jal Hello there Jeevan Hai 200, 350, 1000 words and phrases Essay or dissertation for Hindi. Jal hi Jeevan Hai Composition on Hindi One hundred and fifty Thoughts. जल ही जीवन है इस बात में कोई अतिशयोक्ति नहीं है क्योंकि धरती पर सभी जीवित प्राणियों के लिए जल अमृत के समान है.

  • Article on youth crime essay
    • Words: 397
    • Length: 10 Pages

    January '08, 2014 · Shorter Essay in 'Importance from Water' inside Hindi | 'Jal ka Mahatva' par Nibandh (245 Words) Quite short Composition relating to 'Jawaharlal Nehru' during Hindi | 'Jawaharlal Nehru' par Nibandh (200 Words) Shorter Composition on 'Independence Day: 15 August' from India through Hindi | 'Swatantrata .

  • Psychology essay topic about alcohol history
    • Words: 948
    • Length: 9 Pages

    Desired to make sure you EssaysinHindi.com! Our assignment is actually so that you can give a particular on line system to be able to assist enrollees to be able to reveal essays around Hindi vocabulary. This website incorporates study notes, researching forms, works, articles or reviews and additionally some other allied facts submitted from readers just like One. Just before creating ones own Posts about this internet site, you should examine that following pages: 1.

  • Articles about emergency room essay
    • Words: 988
    • Length: 2 Pages

  • Official first day of summer 2017 essay
    • Words: 807
    • Length: 5 Pages